September 26, 2021

दो हिस्सों में मिला युवक का शव, पुलिस बोली- खुदकुशी है


ख़बर सुनें

लखनऊ। गोसाईंगंज के सेमनापुर गांव से एक सप्ताह पहले लापता युवक प्रमोद (24) का शव मंगलवार को गांव के पास जंगल में दो हिस्सों में बंटा मिला। उसका धड़ पेड़ के नीचे पड़ा था जिसके ऊपर ठीक ऊपर गमछा पेड़ से बंधा मिला। वहीं सिर कुछ दूरी पर पड़ा था। ग्रामीण, युवक की हत्या की बात कह रहे हैं लेकिन बिना किसी वैज्ञानिक आधार के पुलिस इसे आत्महत्या बताती रही। पुलिस का तर्क है कि शव कई दिन तक पेड़ से लटका रहा। सड़ जाने और भारी होने के कारण वह गिर गया और गर्दन धड़ से अलग हो गई।
सेमनापुर गांव निवासी बृजेश का भाई प्रमोद एक सप्ताह से लापता था। उसकी तलाश परिवारीजन काफी दिनों से कर रहे थे। मंगलवार को सतीश नाम का व्यक्ति गांव के पास जंगल की तरफ टहलने गया था। उसे दुर्गंध आई तो अंदर जाकर देखा। जहां पर प्रमोद का शव दो हिस्सों में पड़ा था। उसने तुरंत प्रधान पति, परिवारीजनों व पुलिस को सूचना दी गई। मृतक के भाई बृजेश ने बताया कि उसके पिता की दो साल पहले मौत हो चुकी है। बताया कि प्रमोद पहले भी कई बार इसी तरह लापता हो जाता था। फिर वापस आ जाता था। इसी कारण पुलिस को सूचना नहीं दी गई थी। बृजेश ने भाई की हत्या की आशंका जताई है। उसने पुलिस से जांच की मांग की है। प्रमोद के परिवारीजन ने बताया कि वह नशे का भी आदी था। आशंका जाहिर की गई है कि किसी ने आत्महत्या का रूप देने के लिए पेड़ से लटकाकर पहले प्रमोद की हत्या की और फिर गर्दन काट दी। वहीं दूसरी ओर पुलिस इसे आत्महत्या का रूप देने में जुटी रही।
चिकित्सकों ने बताया, ऐसा संभव नहीं
राजधानी के कई डॉक्टरों ने इस मामले में कहा कि सामान्य स्थितियों में ऐसा संभव नहीं है कि फांसी पर लटकाशव अपने आप ही दो हिस्सों में गर्दन से अलग होकर गिर जाए। शवों का पोस्टमार्टम करने वाले राजधानी के एक चिकित्सक ने कहा कि शव भले छह-सात दिन पुराना हो लेकिन अपने आप फंदे से लटके रहने के दौरान दो हिस्सों में बंटकर गिर नहीं सकता। बाकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी तफ्तीश के बाद ही कुछ कहा जा सकता है कि इसके पीछे कौन से कारण रहे होंगे।
ये रहा पुलिस का तर्क
प्रभारी निरीक्षक गोसाईंगंज अमरनाथ वर्मा के मुताबिक, घर वाले किसी से रंजिश की बात से इनकार कर रहे हैं। प्रमोद भारी शरीर का था। शव कई दिन तक पेड़ से लटका रहा। सड़ जाने और भारी होने के कारण वह गिर गया और गर्दन धड़ से अलग हो गई। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

लखनऊ। गोसाईंगंज के सेमनापुर गांव से एक सप्ताह पहले लापता युवक प्रमोद (24) का शव मंगलवार को गांव के पास जंगल में दो हिस्सों में बंटा मिला। उसका धड़ पेड़ के नीचे पड़ा था जिसके ऊपर ठीक ऊपर गमछा पेड़ से बंधा मिला। वहीं सिर कुछ दूरी पर पड़ा था। ग्रामीण, युवक की हत्या की बात कह रहे हैं लेकिन बिना किसी वैज्ञानिक आधार के पुलिस इसे आत्महत्या बताती रही। पुलिस का तर्क है कि शव कई दिन तक पेड़ से लटका रहा। सड़ जाने और भारी होने के कारण वह गिर गया और गर्दन धड़ से अलग हो गई।

सेमनापुर गांव निवासी बृजेश का भाई प्रमोद एक सप्ताह से लापता था। उसकी तलाश परिवारीजन काफी दिनों से कर रहे थे। मंगलवार को सतीश नाम का व्यक्ति गांव के पास जंगल की तरफ टहलने गया था। उसे दुर्गंध आई तो अंदर जाकर देखा। जहां पर प्रमोद का शव दो हिस्सों में पड़ा था। उसने तुरंत प्रधान पति, परिवारीजनों व पुलिस को सूचना दी गई। मृतक के भाई बृजेश ने बताया कि उसके पिता की दो साल पहले मौत हो चुकी है। बताया कि प्रमोद पहले भी कई बार इसी तरह लापता हो जाता था। फिर वापस आ जाता था। इसी कारण पुलिस को सूचना नहीं दी गई थी। बृजेश ने भाई की हत्या की आशंका जताई है। उसने पुलिस से जांच की मांग की है। प्रमोद के परिवारीजन ने बताया कि वह नशे का भी आदी था। आशंका जाहिर की गई है कि किसी ने आत्महत्या का रूप देने के लिए पेड़ से लटकाकर पहले प्रमोद की हत्या की और फिर गर्दन काट दी। वहीं दूसरी ओर पुलिस इसे आत्महत्या का रूप देने में जुटी रही।

चिकित्सकों ने बताया, ऐसा संभव नहीं

राजधानी के कई डॉक्टरों ने इस मामले में कहा कि सामान्य स्थितियों में ऐसा संभव नहीं है कि फांसी पर लटकाशव अपने आप ही दो हिस्सों में गर्दन से अलग होकर गिर जाए। शवों का पोस्टमार्टम करने वाले राजधानी के एक चिकित्सक ने कहा कि शव भले छह-सात दिन पुराना हो लेकिन अपने आप फंदे से लटके रहने के दौरान दो हिस्सों में बंटकर गिर नहीं सकता। बाकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी तफ्तीश के बाद ही कुछ कहा जा सकता है कि इसके पीछे कौन से कारण रहे होंगे।

ये रहा पुलिस का तर्क

प्रभारी निरीक्षक गोसाईंगंज अमरनाथ वर्मा के मुताबिक, घर वाले किसी से रंजिश की बात से इनकार कर रहे हैं। प्रमोद भारी शरीर का था। शव कई दिन तक पेड़ से लटका रहा। सड़ जाने और भारी होने के कारण वह गिर गया और गर्दन धड़ से अलग हो गई। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।



Source link